अलकायदा सरगना ने वीडियो जारी कर मुस्कान को बताया बहन, कहा- ‘तूने मेरा दिल जीत लिया’

0
50
अलकायदा सरगना ने वीडियो जारी कर मुस्कान को बताया बहन, कहा- 'तूने मेरा दिल जीत लिया'
अलकायदा सरगना ने वीडियो जारी कर मुस्कान को बताया बहन, कहा- 'तूने मेरा दिल जीत लिया'

अलकायदा सरगना ने वीडियो जारी कर मुस्कान को बताया बहन, कहा- ‘तूने मेरा दिल जीत लिया’

 

कर्नाटक हिजाब मामले पर वैश्विक आतंकवादी समूह अल कायदा के सरगना अयमान अल-जवाहिरी ने एक वीडियो जारी कर फिर से आग उगली है। अलकायदा के आधिकारिक शबाब मीडिया द्वारा जारी और खुफिया समूह द्वारा सत्यापित नौ मिनट के इस वीडियो में जवाहिरी ने कर्नाटक स्थित कॉलेज की छात्रा मुस्कान खान की प्रशंसा की। बता दें मुस्कान वह छात्रा है जिसने कर्नाटक में ‘जय श्री राम’ के नारे लगाती भीड़ के सामने ‘अल्लाह हू अकबर’ के नारे लगाए थे। जवाहिरी ने वीडियो में मुस्कान खान को अपनी बहन बताया। उसने उसकी तारीफ में एक कविता भी पढ़ी।

जवाहिरी ने भारत में मुसलमानों के दमन का आरोप लगाया

जवाहिरी ने भारत में मुसलमानों के दमन का आरोप लगाते हुए मुस्लिमों को इसके खिलाफ आवाज उठाने के लिए भी उकसाया। जवाहिरी के इस वीडियो के साथ एक पोस्टर भी जारी किया गया है, जिसमें मुस्कान के लिए लिखा है- ‘भारत की महान महिला’। वीडियो में जवाहिरी मुस्कान के लिए लिखी एक कविता भी पढ़ता नजर आ रहा है। उसने कहा कि मुझे वीडियो और सोशल मीडिया के जरिए मुस्कान के बारे में पता चला और इस ‘बहन’ ने ‘तकबीर’ की आवाज उठाकर मेरा दिल जीत लिया है, इसीलिए मैं उसकी तारीफ में कविता पढ़ रहा हूं। कविता पढ़ने के बाद जवाहिरी ने हिजाब पर प्रतिबंध लगाने वाले देशों की निंदा की।

देश के कई हिस्सों में काफी प्रदर्शन हुए

बता दें कि कर्नाटक में हिजाब विवाद उस समय शुरू हुआ था, जब उडुपी के एक सरकारी स्कूल में कुछ छात्राओं को हिजाब पहनकर कक्षा में जाने पर रोक लगा दी गई थी। इसे लेकर देश के कई हिस्सों में काफी प्रदर्शन हुए थे। इसी दौरान आठ फरवरी को मांड्या में पीईएस कॉलेज के अंदर भगवा शॉल पहने लड़कों ने जयश्री राम के नारे लगाए। जिसके बाद विवाद और बढ़ गया। जय श्री राम के नारे लगाती भीड़ के सामने 19 साल की मुस्कान खान ने अल्लाह हू अकबर के नारे लगाए थे। इसके बाद मामला कर्नाटक हाईकोर्ट पहुंचा और हाईकोर्ट ने फैसला दिया था कि हिजाब इस्लाम धर्म का अभिन्न अंग नहीं है, इसलिए राज्य सरकार को इसे स्कूलों के अंदर यूनिफॉर्म का हिस्सा बनाने का निर्देश नहीं दिया जा सकता।

नवंबर के बाद से यह जवाहिरी का पहला वीडियो है

नवंबर के बाद से यह जवाहिरी का पहला वीडियो है और यह दिखाता है कि मोस्ट वांटेड आतंकवादी न केवल जीवित है बल्कि मौजूदा मामलों में सक्रिय रूप से जुड़ा हुआ है। जवाहिरी की बीमारी से मौत की खबरें नवंबर 2020 मे सामने आई थीं। लेकिन महीनों बाद एक बिना तारीख वाला वीडियो सामने आया जिससे य जीवित था। माना जाता है कि वह अफगानिस्तान में कहीं स्थित है। _ ब्यूरो रिपोर्ट खिलाफ न्यूज़

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here