20 लाख टन कचरा अर्बन एक्सटेंशन रोड प्रोजेक्ट-2 में होगा इस्तेमाल : नितिन गडकरी

0
46

दिल्ली के गाजीपुर का 20 लाख टन कचरा अर्बन एक्सटेंशन रोड प्रोजेक्ट-2 में होगा इस्तेमाल : नितिन गडकरी

अधिकारियो के साथ दौरे के वक्त केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि दिल्ली के देश की राजधानी होने के नाते आसपास के इलाकों से कनेक्टिविटी पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है.

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली के गाजीपुर में कचरे के पहाड़ का इस्तेमाल सड़क बनाने के काम लाया जाएगा. अर्बन एक्सटेंशन रोड 2 को बनाने के लिए उक्त कचरे में से 20 लाख टन कचरे का इस्तेमाल होगा. इस कार्य से गाजीपुर में कचरे का पहाड़ कम होगा, प्रदूषण में कमी आएगी और साथ रोड बनने से दिल्ली का ट्रैफिक जाम भी कम होगा.

दिल्ली के उपराज्यपाल भी थे मौजूद

गडकरी ने ये बात आज अर्बन एक्सटेंशन रोड 2 के मुआयने के दौरान कही. गडकरी के साथ दिल्ली के उपराज्यपाल वी के सक्सेना भी मौजूद थे.

मालूम हो कि दिल्ली से चंडीगढ़ का कार से सफर आसान होने जा रहा है. इस साल अक्टूबर से मात्र 2 घण्टे में लोग सफर तय कर सकेंगे. ये मुमकिन हो पाएगा अर्बन एक्सटेंशन रोड 2 के पूरा होने के बाद. केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को बस में सांसदों और अधिकारियों के साथ इसका मुयायना किया.

इस साल अक्टूबर में पूरा होगा काम

गडकरी ने कहा कि दिल्ली में ट्रैफिक जाम और प्रदूषण की समस्या से छुटकारा पाने के लिए केंद्र सरकार कई स्तर पर काम कर रही है जिसमें से एक है अर्बन एक्सटेशन रोड. इसकी शुरुआत नवम्बर 2021 में हुई थी और अब ये इस साल अक्टूबर में पूरा होने जा रहा है.

ये पूरा प्रोजेक्ट 7716 करोड़ का है जो पश्चिमी दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली, गुरुग्राम, आईजीआई एयरपोर्ट, धौला कुंआ, मुकरबा चौक, चंडीगढ़ और जम्मू कश्मीर की कनेक्टिविटी को बेहतर बनाएगा. इस रोड पर कुल 27 ब्रिज, 27 फ्लाईओवर और 11 अंडरपास हैं.

अधिकारियो के साथ दौरे के वक्त केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि दिल्ली के देश की राजधानी होने के नाते आसपास के इलाकों से कनेक्टिविटी पर ज्यादा जोर दिया जा रहा है जिसमें दिल्ली से देहरादून, दिल्ली से हरिद्वार, दिल्ली से जयपुर और दिल्ली से चंडीगढ़ जैसे इलाके हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here