अफगानिस्तान में भूकंप की वजह से मारे गए बच्चों की संख्या 155 पहुंची, बिछड़ों को परिवार से मिलाने की कोशिश जारी

0
129
अफगानिस्तान में भूकंप की वजह से मारे गए बच्चों की संख्या 155 पहुंची, बिछड़ों को परिवार से मिलाने की कोशिश जारी
अफगानिस्तान में भूकंप की वजह से मारे गए बच्चों की संख्या 155 पहुंची, बिछड़ों को परिवार से मिलाने की कोशिश जारी

 

अफगानिस्तान में भूकंप की वजह से मारे गए बच्चों की संख्या बढ़कर 155 पहुंच गई है। संयुक्त राष्ट्र ने इस बारे में जानकारी दी है और बताया है कि दक्षिण पूर्वी अफगानिस्तान में बीते हफ्ते आए भीषण भूकंप में 155 बच्चे मारे गए। ओसीएचए ने रविवार को बताया कि देश की पाकिस्तान से लगती सीमा के पास पक्तिका और खोस्त प्रांतों के पर्वतीय गांवों में आए भूकंप में 250 और बच्चे घायल हुए हैं।

भूकंप के कारण करीब 65 बच्चे अनाथ हो गए

इसमें ज्यादातर बच्चे भूकंप से बेहद प्रभावित पक्तिका के गायान जिले से हैं। बता दें कि अफगानिस्तान के तालिबानी शासकों ने भूकंप से मरने वालों की संख्या 1,150 बताई है और सैकड़ों लोगों के घायल होने की बात कही है। वहीं, संयुक्त राष्ट्र ने यह आंकड़ा थोड़ा कम 770 बताया है। हालांकि, विश्व संस्था ने आंकड़ों में इजाफा होने के संकेत दिए हैं। संयुक्त राष्ट्र के ऑफिस ने बताया है कि भूकंप के कारण करीब 65 बच्चे अनाथ हो गए हैं या उनके साथ कोई नहीं है। दशकों के युद्ध, गरीबी और आर्थिक संकट से जूझ रहे अफगानिस्तान के लिए यह भूकंप ताजा झटका है।

भूकंप के कारण बिछड़े हुए बच्चों को फिर से परिवार से मिलाने की कोशिश

ये तालिबानी शासन की क्षमता और अंतरराष्ट्रीय समुदाय की अफगानिस्तान की मदद करने की इच्छा दिखाने के लिए ली गई एक परीक्षा भी है। संयुक्त राष्ट्र की बाल एजेंसी ने सोमवार को बताया कि वह भूकंप के कारण बिछड़े हुए बच्चों को फिर से परिवार से मिलाने की कोशिश कर रही है। एजेंसी ने गायान में बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य की जांच और मनोवैज्ञानिक मदद के लिए एक क्लीनिक भी बनाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here