असम में भीषण बाढ़ का कहर, 8 जिलों के 33 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित सड़कों पर रहने के लिए मजबूर

0
56
असम में भीषण बाढ़ का कहर, 8 जिलों के 33 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित सड़कों पर रहने के लिए मजबूर
असम में भीषण बाढ़ का कहर, 8 जिलों के 33 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित सड़कों पर रहने के लिए मजबूर

 

असम में भारी वर्षा और बाढ़ से स्थिति विकट बनी हुई है। राज्य के 28 जिलों के 33 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। नागौन जिले के 155 गांव अब भी डूबे हुए हैं। घरों में पानी घुसने से लोग हाईवे के किनारे तंबू लगाकर रहने को मजबूर हैं। नागौन के राहा विधानसभा क्षेत्र में करीब 1.42 लाख लोग बाढ़ की मार से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। उनके घर डूबे हुए हैं।

केंद्रीय मंत्री बीते दिनों इलाके का दौरा कर हालात का जायजा लिया

मिली जानकारी के मुताबिक सैकड़ों लोगों को अपना घर बार छोड़कर हाईवे व सड़कों के किनारे तंबू लगाकर रहना पड़ रहा है। पानी की निकासी नहीं होने से जल्द हालात सुधरने के आसार भी नहीं हैं। केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने बीते दिनों इलाके का दौरा कर हालात का जायजा लिया। नागौन जिले में बच्चों को राहत शिविरों में ही प्री स्कूल गतिविधियां कराना पड़ रही हैं।

28 जिलों के 33 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित

एकीकृत बाल विकास सेवाओं के सुपरवाइजर एनडी डोले ने बताया कि स्कूल पूर्व की गतिविधियों में सुबह की प्रार्थना, व्यायाम, चित्रकला सिखाई जा रही है। असम के आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार सभी 28 जिलों के 33 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। 2.65 लाख से ज्यादा लोग राहत शिविरों में रह रहे हैं। बाढ़ व वर्षाजन्य हादसों के कारण अब तक 118 लोगों की जान जा चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here