खरगोन रामनवमी हिंसा मामले में ऐक्शन मोड में शिवराज, आरोपियों के घरों पर चला बुलडोजर, नौकरी भी छिनी

0
64
खरगोन रामनवमी हिंसा मामले में ऐक्शन मोड में शिवराज, आरोपियों के घरों पर चला बुलडोजर, नौकरी भी छिनी
खरगोन रामनवमी हिंसा मामले में ऐक्शन मोड में शिवराज, आरोपियों के घरों पर चला बुलडोजर, नौकरी भी छिनी

खरगोन रामनवमी हिंसा मामले में ऐक्शन मोड में शिवराज, आरोपियों के घरों पर चला बुलडोजर, नौकरी भी छिनी

मध्य प्रदेश के खरगोन में रामनवमी के मौके पर हुई हिंसा के बाद राज्य की शिवराज सिंह चौहान एक्शन मोड में आ गई है। आज दंगाईयों के मकानों को तोड़ने की कार्रवाई शुरू हुई है। शहर के संवेदनशील छोटी मोहन टाकीज क्षेत्र में भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में मकानों को तोड़ा गया है। कल हुए दंगे के बाद आज दंगाईयों के मकानों को तोड़ने की कार्रवाई शुरू हुई है। शहर के संवेदनशील छोटी मोहन टाकीज क्षेत्र में भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में मकानों को तोड़ा जा रहा है। उल्लेखनीय है कि कल रामनवमीं पर शोभायात्रा निकालने के दौरान सम्प्रदायिक विवाद हो गया था। जिसमे दंगाईयो ने पथराव, आगजनी की घटना की थी। इस घटना को लेकर राज्य के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि इस हिंसा में शामिल आरोपियों की पहचान कर ली गई है और उन्हें बक्शा नहीं जाएगी।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि इस हिंसा में शामिल आरोपियों की पहचान कर ली गई

इस घटना को लेकर राज्य के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि इस हिंसा में शामिल आरोपियों की पहचान कर ली गई है और उन्हें बख्सा नहीं जाएगी। सीएम ने कहा कि रामनवमी के अवसर पर खरगोन में हुई घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। मध्यप्रदेश की धरती पर दंगाइयों के लिए कोई स्थान नहीं है। यह दंगाई चिन्हित कर लिए गए हैं, इनको छोड़ा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ कठोरतम कार्यवाही की जाएगी।

छिन गई नौकरी

एक वरिष्ठ अफसर ने मीडिया को जानकारी दी है कि दंगाइयों के अवैध निर्माण को तोड़ा गया है। कुछ कर्मचारियों के शामिल होने का भी पता चला है, जिन्हें अभी सेवा से निकाल दिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार दंगे में शामिल 4 शासकीय कर्मचारियों में से 3 की सेवा को समाप्त कर दिया गया है। वहीं एक शासकीय कर्मचारी को सस्पेंड करने की कार्रवाई की गई है। दंगाई की पहचान कर उनके घर बुलडोजर से ढाह दिये गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here