Russia Ukraine War: रूस का दावा- अमेरिका के ड्रोन कर रहे यूक्रेन की मदद, हमारे जहाज पर करवाया हमला

0
66
Russia Ukraine War: रूस का दावा- अमेरिका के ड्रोन कर रहे यूक्रेन की मदद, हमारे जहाज पर करवाया हमला
Russia Ukraine War: रूस का दावा- अमेरिका के ड्रोन कर रहे यूक्रेन की मदद, हमारे जहाज पर करवाया हमला

Russia Ukraine War: रूस का दावा- अमेरिका के ड्रोन कर रहे यूक्रेन की मदद, हमारे जहाज पर करवाया हमला

हाइलाइट


रूस के रक्षा मंत्रालय का दावा है कि ये अमेरिकी ड्रोन हमले में यूक्रेन की मदद कर रहे हैं.

अमेरिकी ड्रोन से निर्देश मिलने के बाद यूक्रेन ने काला सागर में एक जहाज पर हमला किया: रूस

रूस ने अमेरिका पर यूक्रेन की मदद के लिए यूएवी ड्रोन भेजने का भी आरोप लगाया है।

रूस ने अमेरिका पर ड्रोन के जरिए यूक्रेन की मदद करने का आरोप लगाया है। रूस के रक्षा मंत्रालय का दावा है कि अमेरिका के ये ड्रोन हमले में यूक्रेन की मदद कर रहे हैं। उसने यह भी आरोप लगाया कि अमेरिका के ड्रोन से दिशानिर्देश मिलने के बाद यूक्रेन ने ब्लैक सी में रूस के एक जहाज पर हमला कर दिया। रूस ने यह भी आरोप लगाया है कि यूक्रेन की मदद के लिए अमेरिका यूएवी ड्रोन भेज रहा है।

यूक्रेन के नागरिक अब भूमिगत आश्रयस्थलों को तलाश रहे हैं

इस बीच यूक्रेन की राजधानी कीव में रातभर धमाकों और सड़कों पर घमासान के बाद रूसी सैनिक यहां प्रवेश कर गये और संघर्ष अब तेज हो गया है। वहीं संघर्ष बढ़ने के बीच यूक्रेन के नागरिक अब भूमिगत आश्रयस्थलों को तलाश रहे हैं। इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने वहां से निकल जाने के अमेरिकी प्रस्ताव को मानने से इनकार कर दिया तथा जोर दिया कि वह राजधानी में ही रुकेंगे।

राजधानी के पास लड़ाई जारी रही

उन्होंने कहा, ‘यहां जंग जारी है।’ यूक्रेन के अधिकारियों ने रूसी हमलों को रोकने में कुछ सफलता हासिल करने की सूचना दी। यूक्रेनी अधिकारियों ने हमलों को रोकने में कुछ सफलता हासिल करने की सूचना दी, लेकिन राजधानी के पास लड़ाई जारी रही। 2 दिनों के घमासान के बाद हुई झड़पों में सैकड़ों लोग हताहत हुए हैं और पुलों, विद्यालयों और अपार्टमेंट की इमारतों को भारी नुकसान हुआ है। अमेरिकी अधिकारियों का मानना है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन यूक्रेन की सरकार को उखाड़ फेंकने और इसे अपने शासन के अधीन करने को दृढ़ हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here